WELCOME TO MY BLOG @ MY THOUGHTS

MY THOUGHTS

“Start each day with a positive thought and a grateful heart.”

मेरे विचार

आज जरूरत चिंतन की है इस समाज बदलने की। आज जरूरत आन पड़ी है उल्टी चाल बदलने की।। चिंतन ही मानव से (दूषित,शुभ) कर्म कराता है। है आधार विचार यही जो वातावरण बनाताहै।। आओ सब मिलकर इसको स्वच्छ बनाए । नई ज्योति और नई राह को सब मिलकर के अपनाएं।। अब कुरीतियों की समाज मै न और हो मनमानी। सब मिलकर स्वच्छ समाज बनाए अपने मन में ठानी।।

—-जैसे अग्नि के सत्संग मे काला कोयला भी तप कर सुनहले रंग का होकर अपनी ऊर्जा से आस पास के वातावरण को प्रभावित करता है ,उसी प्रकारमनुष्य यदि चाहे तो तप और सत्संग सेअपने भीतर कोयला रूपी बुरे विचारों को तप रूपी अग्नि मे उसे तपाकर सदगुणों के सुनहले प्रकाश से स्वयं और समाज को प्रकाशित कर सकता है!

VED PRAKASH SHRIVASTAVA

VED PRAKASH SHRIVASTAVA, (ASTROLOGER), PRAYAGRAJ UP, INDIA

vedprakashsrivastava14@gmail.com

ज्योतिषाचार्य (वेद)

Hi___ I am V P Shrivastava, Acharya & retired an engineer from PSU and belongs simple hindu kayastha family and an Astrologer passed post diploma from Madurai University in 2009 . I am a blog writer consisting mostly religious topics, poems, astrology articles, Srimad Bhagavad Gita and Shiv Swaroop etc, i love my family as love to write and Preach. I don’t know who am i? but my blogs describe me and my thinking . I am neither rich nor poor ,neither happy nor sad in fact my heart and mind is very rich and happy because it’s always insist me for spiritual stream thoughts . it’s grace of God. You can contact me on my gmail A/c &my face book a/c vedprakashsrivastava14@gmail.com.

Thanks

MOTIVATOR & PUBLIC RELATION OFFICER

प्रेरक एवं जनसंपर्क अधिकारी

ज्योतिषाचार्य (वेद)

*शिव परात्पर परब्रह्म परमात्मा एवम जगत पिता *